मतदाता सूची का हुआ अंतिम प्रकाशन : राजनीतिक दलों की बैठक में मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी ने दी जानकारी : राज्य में एक करोड़ 85 लाख 45 हजार 819 मतदाता

विधानसभा निर्वाचन 2018 के लिए आज मतदाता सूची का अंतिम प्रकाशन हो गया। मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय के सभाकक्ष में आज राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों के साथ हुई महत्वपूर्ण बैठक में मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी श्री सुब्रत साहू ने यह जानकारी दी।
श्री साहू ने बताया कि भारत निर्वाचन आयोग नई दिल्ली के निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार राज्य के शत-प्रतिशत मतदाताओं के नाम मतदाता सूची में जोड़ने, अपात्रों के नाम विलोपित करने और त्रुटिपूर्ण नामों को संशोधित करने के लिए आयोग के द्वारा मतदाता सूची का संक्षिप्त पुनरीक्षण किया गया, जिसका अंतिम प्रकाशन आज 27 सितम्बर 2018 को कर दिया गया है। अंतिम मतदाता सूची मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय की वेबसाइट सीईओछत्तीसगढ़डॉटएनआईसीडॉटइन पर भी उपलब्ध है। यदि कोई पात्र मतदाता अपना आवेदन प्रस्तुत नहीं कर सका हो तो भी नामांकन की अंतिम तिथि तक वह अपना नाम जोड़े जाने के लिए संबंधित निर्वाचक रजिस्ट्रीकरण अधिकारी को या ऑनलाइन निर्धारित प्रारूप् में अपना आवेदन एनव्हीएसपीडॉटइन पर भी कर सकता है। उन्होंने बताया कि यह कार्रवाई नियमित अद्यतन  के तहत जारी रहेगी।
मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी ने बताया कि 27 सितम्बर 2018 को हुए मतदाता सूची के अंतिम प्रकाशन में राज्य में कुल मतदाताओं की संख्या एक करोड़ 85 लाख 45 हजार 819 है, जिसमें 92 लाख 95 हजार 301 पुरूष, 92 लाख 49 हजार 459 महिला और एक हजार 59 थर्ड जेंडर मतदाता है। उन्होंने बताया कि जब मतदाता सूची के प्रारूप् का 31 जुलाई 2018 को प्रकाशन हुआ था, उस वक्त कुल मतदाताओं की संख्या एक करोड़ 81 लाख 79 हजार 435 थी, जिसमें 91 लाख 46 हजार 99 पुरूष, 90 लाख 32 हजार 505 महिला और 831 थर्ड जेंडर मतदाता थे। संक्षिप्त पुनरीक्षण कार्यक्रम के अंतर्गत मतदाता सूची का जो अंतिम प्रकाशन 27 सितम्बर 2018 को किया गया, तो यह देखा गया कि तीन लाख 66 हजार 384 मतदाताओं के नाम बढ़े, जिसमें एक लाख 49 हजार 202 पुरूष, दो लाख 16 हजार 954 महिला और 228 थर्डजेंडर मतदाता शामिल हैं। उन्होंने बताया कि अर्हता तिथि एक जनवरी 2018 को सेवानिर्वाचकों से संबंधित निर्वाचक नामावलियों के अंतिम भाग का द्वितीय विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण का प्रारंभिक प्रकाशन 10 अगस्त 2018 को किया गया था। उस दौरान सेवा मतदाता की संख्या 12 हजार 776 थी। मतदाता सूची के अंतिम प्रकाशन की तिथि 27 सितम्बर 2018 को सेवा मतदाताओं की संख्या 14 हजार 93 हो गई।  इस प्रकार सेवा मतदाताओं में एक हजार 317 की वृद्धि हुई।
भारत निर्वाचन आयोग के निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार राज्य के शत-प्रतिशत मतदाताओं के नाम मतदाता सूची में जोड़ने, अपात्रों के नाम विलोपित करने और त्रुटिपूर्ण नामों को संशोधित करने के लिए संक्षिप्त पुनरीक्षण किया गया। इसके अंतर्गत आवेदन प्रारूप-6 में 6 लाख 9 हजार 895 आवेदन पत्र प्राप्त हुए थे, वहीं आवेदन प्रारूप-7 के तहत दो लाख 43 हजार 511 आवेदन प्राप्त प्राप्त हुए थे। इस प्रकार मतदाताओं के लिए संचालित संक्षिप्त पुनरीक्षण कार्यक्रम में मतदाताओं की संख्या में कुल अभिवृद्धि तीन लाख 66 हजार 384 की हुई। बताया गया कि राज्य में ओवरसीज मतदाता की संख्या एक है। मतदाता सूची में दिव्यांगजन मतदाताओं की पहचान कर एक लाख 11 हजार 620 मतदाता का चिन्हांकन मतदाता सूची में कर लिया गया है। मतदाता सूची के आज हुए अंतिम प्रकाशन में यह प्रतिवेदित किया गया है कि छत्तीसगढ़ राज्य में 18-19 आयु वर्ग के मतदाताओं की संख्या चार लाख 96 हजार 954 है। 20 से 29 वर्ष के मतदाताओं की संख्या 53 लाख 95 हजार 283 है। 30 से 39 वर्ष के मतदाताओं की संख्या 48 लाख 33 हजार 568 है। 40 से 49 आयु वर्ग के मतदाताओं की संख्या 35 लाख 11 हजार 208 है। 50 से 59 वर्ष के मतदाताओं की संख्या 23 लाख 23 हजार 840 है। 60 से 69 आयु वर्ग के मतदाताओं की संख्या 12 लाख 70 हजार 422 है। 70 से 79 वर्ष के मतदाताओं की संख्या पांच लाख 53 हजार 52 है। वहीं 80 और इससे अधिक आयु वर्ग के मतदाताओं की कुल संख्या राज्य में एक लाख 61 हजार 492 प्रतिवेदित की गई। इस प्रकार छत्तीसगढ़ राज्य में कुल मतदाताओं की संख्या एक करोड़ 85 लाख 45 हजार 819 है, जिसमें 92 लाख 95 हजार 301 पुरूष, 92 लाख 49 हजार 459 महिला और एक हजार 59 थर्डजेंडर मतदाता शामिल है। इस अवसर पर कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ इंडिया, इंडियन नेशनल कांग्रेस, भारतीय जनता पार्टी, बहुजन समाज पार्टी, छत्तीसगढ़ संयुक्त जातीय पार्टी, छत्तीसगढ़ी समाज पार्टी, लोकतंत्र कांग्रेस पार्टी, पृथक बस्तर राज्य पार्टी, आजादी का अंतिम आंदोलन, भारतीय प्रजातांत्रिक शुद्ध गांधीवादी कृषक दल और अखिल भारतीय हिन्दू महासभा के प्रतिनिधि उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *