भटक रही है अटल बिहारी वाजपेयी की आत्मा! कोई सुध लेने वाला नही,कोई अस्थियों का विसर्जन करने वाला नही

रायपुर। एकात्म परिसर के किसी कोने में रखी अटल की अस्थियां अपने विसर्जन की राह ताक रही है, पर लगता है इस पर अभी सियासत और बाकी है। जी हां अटल जी के निधन के बाद शोक के नाम पर खूब हंसी ठिठौली भी हुई सियासत भी गरमाई। बीजेपी नेताओं ने अटल जी की अस्थियों को कई राज्यों के नदियों में बहाया ही नहीं बल्कि एक बड़ा राजनैतिक स्टंट भी खड़ा किया। लेकिन छत्तीसगढ़ में अटल जी की अस्थियां अब भी विसर्जन नहीं की गई है। हिन्दू परम्परा के अनुसार अब भी अटल जी की आत्मा को शांति नहीं मिली है।

https://m.youtube.com/watch?v=ktDvBUJ9K6g

बीजेपी के नेता और भारत रत्न पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की मौत के बाद देश मे शोक की लहर रही हर राजनीतिक पार्टी ने अपना दुख व्यक्त किया लेकिन बीजेपी ने इसी को देश मे भुनाने की कोशिश की और बीजेपी ने अटल बिहारी वाजपेयी के अस्थियों के कई कलश बनाये ,पार्टी ने इन कलश को राज्य ,जिला ,ब्लॉक लेवल पर भेजा ताकि कार्यकर्ता कलश दर्शन कर सके ,बीजेपी ने इसे चुनाव में भी भुनाने की कोशिश कर रही है यही वजह है कि बीजेपी के सभी पोस्टर में अटल बिहारी वाजपेयी की तस्वीर नज़र आती है , लेकिन अब अटल बिहारी वाजपेयी के उन्ही कलश की गर्त नज़र आ रही है ये नज़ारा है छत्तीसगढ़ के बीजेपी दफ्तर का जहा हॉल के एक किनारे में एक बोरी में अटल बिहारी वाजपेयी के अस्थि कलश भरे पड़े है ,इन कलश में अटल बिहारी वाजपेयी की अस्थियां है और मिट्टी भी भरी है ,ये कलश एक दो नही बल्कि कई कलश है ,तस्वीरें बताती है कि पार्टी के मन मे अटल बिहारी वाजपेयी कितने है और उनकी कितनी अहमियत है ,ये सारे कलश ब्लॉक लेवल से यहाँ वापस आये है लेकिन पार्टी ने इन अस्थियो को कलशों में भरी अस्थियो को विसर्जित नही किया ,जब कि दर्शन के बाद ब्लॉक स्तर के कलशों को यहाँ पर वापस भेज दिया है ,अब सवाल ये उठता है कि आखिर इस तरह से अटल बिहारी वाजपेयी को मानने का दावा करने वाली बीजेपी ,अपने दफ्तर में क्यों अटल बिहारी वाजपेयी की आत्मा को भटका रही है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *